February 25, 2021

खुलासा मीडिया

ख़बर की तह तक

नेपाल में हिन्दू स्वयं सेवक सम्मलेन का आयोजन से कम्युनिष्ट सकते में

नेपाल से गणेश शंकर की रिपोर्ट

विश्व का एक मात्र हिन्दू राष्ट्र नेपाल माना जाता रहा पर राजतंत्र ख़त्म होने और प्रजातंत्र की घोषणा के बाद नेपाल को धर्मनिरपेक्ष देश घोषित कर दिया गया .

लेकिन आज नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (नेकपा ) में विभाजन के बाद नेपाल में सरकार अस्थिर हो गई है . नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली शर्मा केद्वारा प्रतिनिधि सभा का विघटन कर मध्यावधि चुनाव की घोषणा हो चुकी है . सत्ता में रहते हुए भी नेकपा का प्रचंड अपने अस्तित्व को लेकर न्यायालय तक पहुच गई.तो इधर पूर्व राजा ज्ञानेंद्र शाह भी गद्दी वापसी को लेकर संघर्ष कर रहे हैं. अब तो राजा के समर्थक के साथ राजनीतिक दल जिनमे राष्ट्रीय प्रजा तांत्रिक पार्टी शामिल है के साथ नेपाल के हिन्दू राजा की वापसी को लेकर आंदोलन कर रहे हैं .

इसी बीच शनिवार को बिहार नेपाल सीमा के पास के पर्सा जिला के बीरगंज में राष्ट्रीय स्वयं संघ नेपाल द्वारा हिन्दू स्वयंसेवक सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमें स्वयंसेवक अपने गणवेश में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया.नेपाल के राष्ट्रीय सह संघचालक एवं नेपाल के पूर्व अतरिक्त पुलिस महानिदेशक कल्याण कुमार तिमलसिना ने कार्यक्रम का उद्घटान किया और अपने संबोधन में हिन्दू धर्म संस्कृति की रक्षा के लिए एकजुट होने की अपील की . उन्होंने कहा की विश्व की सबसे बड़ी सभ्यता रोम की थी पर यहूदियों के रोम में विलय से वहां की सभ्यता विलुप्त हो गयी ठीक वैसे ही नेपाल के हिन्दू एकजुट नही होगे तो नेपाल में हिन्दू धर्म संस्कृति की रक्षा नही हो सकेगा.

इस कार्यक्रम में नेपाल के राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के जिला संघचालक ललन दुवेदी,राष्ट्रीय प्रचारक वेद प्रकाश ,पशुपति शिक्षा मन्दिर के अध्यक्ष एव उघोगपति अशोक वैध ,विश्व हिंदू परिसद के महासचिव जितेंद्र सिंह सहित हजारों की संख्या में स्वयंसेवक उपस्थित रहे.

आप हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब कीजिये और देखते रहिये खुलासा. आप हमें खबर भी भेज सकते है हमारे नंबर पर. नंबर है -9430021703

Follow us on Social Network :
https://www.youtube.com/c/खुलासा​
https://www.khulasamedia.com​
https://www.facebook.com/khulasamedia​
https://www.twitter.com/khulasamedia